रविवार, 7 अप्रैल 2019

मतदान करो

चंगों को;
नंगों को;
बनावटी भिखमंगों को,
कभी भी मत दान करो
सुशासन के लिए;
स्वच्छ प्रशासन के लिए
बिना चूके
मतदान करो

9 टिप्‍पणियां:

पुरुषोत्तम कुमार सिन्हा ने कहा…

अच्छी उक्ति ।

दिगंबर नासवा ने कहा…

करारा व्यंग ... सटीक

Ankur Jain ने कहा…

बढ़िया। मतदान का संदेश रोचक अंदाज में।

Meena sharma ने कहा…

'समझदार को इशारा काफी'वाली बात कह दी और मतदान का संदेश भी दे दिया। सादर।

Kailash Sharma ने कहा…

सटीक सन्देश...

अरुण चन्द्र रॉय ने कहा…

महत्वपूर्ण सन्देश देती कविता

VIJAY KUMAR VERMA ने कहा…

प्रभावशाली रचना

Hindikunj ने कहा…

bahut sundar vyang rachna likhi hai aapne .
हिन्दीकुंज,हिंदी वेबसाइट/लिटरेरी वेब पत्रिका

शुभा ने कहा…

वाह!!सुंदर रचना !